रहम कीजिए बेटियों पर

Posted on
  • Wednesday, May 18, 2011
  • by
  • DR. ANWER JAMAL
  • in
  • Labels:
  • मानने वाले हैं वो शैताँ के
    नूर के बदले नार लेते हैं
    कैसे इंसान हैं जो बेटी को
    रहम ए मादर में मार देते हैं

    असद रज़ा
    asadrnaqvi@yahoo.co.in
    रहम ए मादर - माँ का गर्भ

    0 comments:

    Followers

    प्यारी माँ

    Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

    मन की दुनिया

    नारी का पूर्ण सशक्तिकरण

     
    Copyright (c) 2010 प्यारी माँ. All rights reserved.